Thursday, January 20, 2011

नवगीत- हम भारत वाले! (रिमिक्स)

करलो जितनी जांचे,
आयोग जितने बिठाले,
नए साल में फिर से करेंगे,
मिलकर नए घोटाले !
हम भारत वाले, हम भारत वाले !!

आज पुराने हथकंडों को छोड़ चुके है,
क्या देखे उस लॉकर को जो तोड़ चुके है,
हर कोई जब लूट रहा है देश-खजाना,
बड़े ठगों से हम भी नाता जोड़ चुके हैं,
बडे कार-बंगले, उजली पोशाके,
कारनामे काले !
हम भारत वाले, हम भारत वाले !!

अभी लूटने है हमको तो कई और खजाने,
भ्रष्टाचार के दरिया है अभी और बहाने,
अभी तो है हमको समूचा देश डुबाना,
देश की दौलत से हैं नए-नए खेल रचाने,
आओ मेहनतकश पर मोटा टैक्स लगाए,
नेक दिलों को खुद जैसा बेईमान बनाए,
पड़ जाए जो इक दिन फिर
इमानदारी के लाले !
हम भारत वाले, हम भारत वाले !!

करलो जितनी जांचे,
आयोग जितने बिठाले,
नए साल में फिर से करेंगे,
मिलकर नए घोटाले !
हम भारत वाले, हम भारत वाले !!


जय हिंद !

2 comments:

हरकीरत ' हीर' said...

नए साल में फिर से करेंगे,
मिलकर नए घोटाले !

वाह...वाह......

क्या बात है .....

गोदियाल जी 'हम भारत वाले 'की जगह 'हम टोपी वाले' लिखते न ....?

amrendra "amar" said...

करलो जितनी जांचे,
आयोग जितने बिठाले,
नए साल में फिर से करेंगे,
मिलकर नए घोटाले !
हम भारत वाले, हम भारत वाले !!

sunder abhivyakti
.http://amrendra-shukla.blogspot.com